Love Shayari

Ads

Jan 21, 2019

Family Shayari | परिवार शायरी.....परिवार........!

Aaj-kal har insaan akela rahna chahta hai lekin pariwaar ka matatv us insaan se pucho jiska koi pariwaar nhi hai ,jisne kabhi pariwaar ke sath samay nhi bitaya,vo aapko batayega ki family kitni important hoti hai.

Family Shayari 

Family Shayari | परिवार शायरी
Kya karunga iss paise ka
Agar pyar hi na ho
Bekar hai zindagi agar ghar
Pariwaar hi na ho
क्या करूँगा इस पैसे का
अगर प्यार ही ना हो
बेकार है ज़िन्दगी अगर घर
परिवार ही ना हो
                                                                   
Family Shayari | परिवार शायरी
Ladne ke liye ek bahan chahiye
Sath dene ke liye ek bhai
Dantne ke liye papa chahiye
Aur bachane ke liye mujhe maai
लड़ने के लिए एक बहन चाहिए
साथ देने के लिए एक भाई
डांटने के लिए पापा चाहिए
और बचाने के लिए मुझे माई
                                                        
Family Shayari | परिवार शायरी
Maa ki pyari baate
Papa ka dulaar
Bahut yaad aata hai
Bade bhai-bahano ka pyar
माँ की प्यारी बाते
पापा का दुलार
बहुत याद आता है
बड़े भाई-बहनों का प्यार
                                                          
Family Shayari | परिवार शायरी
Bujh jaate haidiye
Tel khatm ho jaane ke baad
Aur yaad aati hai apno ki
Unhe chaud ke chale jaane ke baad
बुझ जाते है दिए
तेल ख़त्म हो जाने के बाद
और याद आती है अपनों की
उन्हें छोड़ के चले जाने के बाद
                                                                    
Family Shayari | परिवार शायरी
Baaki sabhi ki to baate hai
Apne vo hi hote hai
Jo waqt par kaam aate hai
 बाकी सभी की तो बाते है
अपने वो ही होते है
जो वक़्त पर काम आते है
                                                                 
Family Shayari | परिवार शायरी
Waqt ke sath apne aur 
Paraye bhi badal jaate hai
Jinse hota hai dil ka rishta 
Vo hi samay par kaam aate hai
वक़्त के साथ अपने और
पराये भी बदल जाते है
जिनसे होता है दिल का रिश्ता
वो ही समय पर काम आते है
                                                
Family Shayari | परिवार शायरी
Jab apne chahne walo ko main
Hansta  hua pata hoon
To apne dukh-dardo ko main
Puri tarah se bhool jata hoon
जब अपने चाहने वालो को मैं
हँसता हुआ पाता हूँ
तो अपने दुःख-दर्दो को मैं
पूरी तरह से भूल जाता हूँ
                                                               
Family Shayari | परिवार शायरी
Pyari si iss duniya me
Har pyara sa pariwaar ho
Khusiyan ho itni ki lage
Jaise roj hi koi tyohar ho
प्यारी सी इस दुनिया में
हर प्यारा सा परिवार हो
खुशियाँ हो इतनी की लगे
जैसे रोज ही कोई त्यौहार हो
                                                               
Family Shayari | परिवार शायरी
Hum ladte hai jhagadte hai
Rote aur rulaate hai
Par ek dusre ko kabhi
Chaud ke nhi jaate hai
हम लड़ते हैं झगड़ते है
रोते और रूलाते है
पर एक दूसरे को कभी
छोड़ के नहीं जाते है
                                             
Dosto humesha apni family ke sath rahna.Thanks.......
                                 Family Shayari             

No comments:
Write Comments

Books

Powered by Blogger.