Love Shayari

Ads

Jan 4, 2019

Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी

Ye kuch funny and Lajawab Shayari hai jo shayad aapko kuch samay ke liye hansane par majboor kar sakti hai.Aap in Lajawab Shayri in hindi ko padhe aur fir comment kar ke btaye ki ye aapko kaisi lagi.🙏

  Lajawab Shayari

                                                        
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी

Acche khaase insaan ko
Pal bhar me mitwa dete hai
Hum bade-bade baadshaho ko pero tale 
Dhool chatwa dete hai 
अच्छे खासे इंसान को
पल भर में मिटवा देते है
हम बड़े-बड़े बादशाहो को पेरो तले
धुल चटवा देते है
                                                                       
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी
Dene ki baari aaye to peeche na hato
Lene ki baari aaye to aage na bado
Chaud nhi sakte koi cheez apni to 
Dusre ki cheez par niyat mat gadho  
देने की बारी आये तो पीछे न हटो
लेने की बारी आये तो आगे ना बड़ो
छोड़ नहीं सकते कोई चीज़ अपनी तो
दूसरे की चीज़ पर नियत मत गढो
                                            
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी
Kishi ko kam to kishi ko
Jyada na mil jaye
Isliye Maa-Baap karte hai bantwara
Jisse sabhi par ek samaan Daolat aaye 
किसी को काम तो किसी को
ज्यादा ना मिल जाये
इसलिए माँ-बाप करते है बंटवारा
जिससे सभी पर एक सामान दौलत आये


                                             
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी
Jise samjhte the log pagal
Vo duniya ko thug gaya
Jo banta tha samajhdar 
Vo baccho se ulloo ban gaya
जिसे समझते थे लोग पागल
वो दुनिया को ठग गया
जो बनता था समझदार
वो बच्चो से उल्लू बन गया 
                                                     
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी
Jab tak dard na ho seene me
Maza hi nahi aata peene me 
जब तक दर्द ना हो सीने में
मज़ा ही नहीं आता पीने में 
                                               
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी
Jo khelte hai aag ke sath
Vo angaaro se dara nhi karte
Marte hai bujdil aksar
Bahadur kabhi mara nhi karte 
जो खेलते है आग के साथ
वो अंगारो से डरा नहीं करते
मरते है बुजदिल अक्सर
बहादुर कभी मरा नहीं करते
                                                     
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी
Yaad me,main subaha -shaam leta hoon
Uski kami ko dur karne ke liye 
Sharab ka jaam leta hoon
याद में,मैं सुबह-शाम लेता हूँ
उसकी कमी को दूर करने के लिए
शराब का जाम लेता हूँ   


                                                       
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी
Padhta hoon 
Kuch sikhne ke liye
Ladta hoon
Logo ka apne prati nazariya 
Dekhne ke liye 
पढता हूँ
कुछ सिखने के लिए
लड़ता हूँ लोगो का अपने प्रति
नजरिया देखने के लिए
                                                         
Lajawab Shayari | लाजवाब शायरी इन हिंदी
Jahan suraj ki roshni pahuchegi 
Waha andkaar nhi rahega 
Agar badal le hum soch apni 
To koi ganda vichar nhi rahega 
जहाँ सूरज की रोशनी पहुँचेगी
वह अंदकार नहीं रहेगा
अगर बदल ले हम सोच अपनी
तो कोई गन्दा विचार नहीं रहेगा 
   
Thanks..... End of Lajawab Shayari
   

No comments:
Write Comments

Books

Powered by Blogger.