Love Shayari

Ads

Jan 25, 2019

True Love Story.....सच्ची प्रेम कहानी

ये एक true लव स्टोरी(True Love Story) है जिसमें बताया गया है कि एक लड़का कैसे अपने प्यार को मुसीबत से बाहर निकालता है और उसे खूब सारा प्यार करता है.
True Love Story.....सच्ची प्रेम कहानी
  

True Love Story


एक लड़का जो दिखने में किसी हीरो से कम नहीं लगता नाम है हिमेश उसको एक लड़की से प्यार हो गया वो रोज उस लड़की को बस स्टैंड पर देखने जाता. हिमेश की एक छोटी बहन जिसका नाम नैंसी है उसकी माँ का नाम पारबती और पिता का नाम संकरदास है जो उसे बहुत ही ज्यादा प्यार करते है और एक दोस्त की तरह उसे प्यार करते है | हिमेश लड़की को ऐसे ही करीब नो से दस महीने तक देखता रहा लेकिन लड़की ने कभी भी कोई रेस्पॉन्स नहीं दिया तो पारबती,हिमेश की माँ ने उसे सीदे अपने प्यार का इज़हार करने को कहा क्योकि हिमेश ने उनको अपने प्यार के बारे में बता दिया | अब आप सोच रहे होंगे की लड़की का नाम क्या है तो उसका नाम है प्रिय जो सुन्दर,सुशील और किसी परी से कम नहीं दिखती ,उसके माँ-बाप की मौत उसके जन्म के चार साल बाद हो गई,उसके चाचा ने उसको पाला और पिता का प्यार भी दिया | 



एक दिन हिमेश ने अपनी माँ के मुताबिक उस लड़की को प्रोपोज़ कर दिया तो उसने उसके गाल पर चांटा मार दिया,वो ऐसा करना नहीं चाहता था लेकिन कुछ पर्सनल प्रोब्लेम्स की वजह से उसको गुस्सा आ गया,अगले दिन हिमेश उस लड़की के पास दुबारा गया और उससे बात करने लगा तो प्रिय वह से जल्दी चली गई,हिमेश समझ गया की प्रिया उससे कुछ कहना तो चाहती है पर वो कह नहीं रही,तो उसने प्रिय के दोस्त के कुछ जानना चाहा पर किसी को कुछ पता नहीं,पर एक लड़का राहुल जो उसके मामा का लड़का था वो उसी कॉलेज में पड़ता था ने हिमेश को बताया की प्रिया चाचा संभु बहुत ही खतरनाक व्यक्ति है और वो जबरदस्ती उसकी शादी कहीं और करवाना चाहते है उन्होंने उसको किसी भी लड़के से बात करने से भी मना किया है.  

जिससे वो उसकी शादी करवाना चाहते है वो और कोई नहीं प्रिया की बुआ का लड़का है वो ऐसा इसलिए कर रहे है क्योकि प्रिया के व्यक्ति बहुत ही ईमानदार व्यक्ति थे और वो प्रिया के नाम पर पचास करोड़ की संपत्ति छोड़ गए है अगर प्रिया की शादी किसी और से कराई तो वो संपत्ति उसके पति को मिल जाएगी इसलिए उसके चाचा उसकी शादी अपनी बहन के लड़के से कराना चाहते है जिससे वो दोनों आधी-आधी संपत्ति ले लेंगे | राहुल ने बताया की उसके पिता मोहन इस शादी को रोकना चाहते थे और वो एक दिन प्रिया को सब कुछ बताने जा रहे थे मम्मी के साथ लेकिन रास्ते में एक ट्रक वाले ने उन्हें टक्कर मार दी जिसमे उसकी माँ की मौत हो गई और पिता के दोनों पैर फ्रैक्चर हो गए और अब वो कहीं घर से भी बहार नहीं जाते. हिमेश ने ये सारी  सच्चाई प्रिया को बताने की बहुत कोशिश की लेकिन वो उससे बात करना ही नहीं चाहती है और उसके आस-पास बॉडीगार्ड भी रहते है. प्रिया के दिल में हिमेश के लिए प्यार तो है पर वो छुपा रही है. आखिरकार हिमेश ने सारी सच्चाई प्रिया को बताई और उसके कच्चा से छुटकारा पाने के लिए एक योजना बनाई और प्रिया तैयार हो गई| 



योजना के मुताबिक काम करते हुए हिमेश प्रिया के चाचा संभु के घर गया और उसने उनसे कहा की चाचा मैं प्रिया से प्यार करता हूँ तो उनके गुंडे उसको मारने के लिए दौड़े लेकिन संभु ने उन सब को रोक दिया और कहा की तेरी इतनी हिम्मत की तू मेरे घर आ कर मेरी भतीजी से प्यार करने जैसी बातें बोल रहा है मेरे गुंडे मेरी एक चुटकी पर तेरे शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर देंगे |  


तो हिमेश ने उनसे कहा की में तो यहा आपकी भलाई के लिए आया हूँ मुझे पता चला की आप अपनी भतीजी की शादी जबरदस्ती करवा रहे है और वो शादी के लिए तैयार भी नहीं है और आप ये सब उसकी पचास वरोरे की संपत्ति हड़पने के लिए कर रहे है,मैं आपका काम आसान कर सकता हूँ | उसने कहा की अगर मैं प्रिया को अपने प्यार में फसा लू और फिर उससे शादी कर लू तो वो संपत्ति मेरे नाम हो जाएगी और फिर आप उसमे से तीस करोड़ ले लेना और बीस करोड़ मेरे नाम कर देना फिर मैं प्रिया को छोड़ दूंगा और यहाँ से कहीं दूर चला जाऊंगा,वरना अगर आप उसकी शादी अपनी दीदी के लड़के से करोगे तो वो आपको सिर्फ पच्चीस करोड़ ही देंगे या फिर उनहोंने कुछ नहीं दिया तो  आप का तो प्लान ही बिगड़ जायेगा |

अगर आप मेरी बात से सहमत हो तो मुझे प्रिया के करीब जाने की इज़ाज़त दो,संभु ने उसको हाँ बोल दी क्योकि वो कुछ और ही सोच रहा था,उसने सोचा की बाद में उस लड़के को मार कर वो बीस करोड़ भी हड़प लेंगे. योजना के मुताबिक हिमेश ने उसको अपने प्यार में फंसा लिया पर ये बात संभु की बहन पारो को पता चली तो वो गुस्से में संभु के पास गई और बोली की भैया ये सब क्या चल रहा है और वो लड़का कोण है तो संभु ने कहा की वो मोहरा है खुसीखुसी हम प्रिय की शादी उससे करवा देंगे तो उसकी संपत्ति उस लड़के के नाम हो जाएगी और फिर अपने गुंडे उसको ऊपर भेज देंगे जिससे अपना काम और भी आसान हो जायेगा और प्रिया को भी अपने पर शक नहीं होगा और अगर प्रिया बीच में आई तो उसको भी मरवा देंगे | संभु ने महूरत निकाल कर प्रिया की शादी हिमेश के साथ करा दी और अब उसको और उसके परिवार को मारने की जोयना बनाने लगा,लेकिन हिमेश ने अपने प्लान के मुताबिक पारो के घर जा कर कहा की आपके भाई हमे मारकर पूरी संपत्ति अकेले ही लेना चाहते है और फिर संभु के घर जाकर कहा की आपकी बहन हमे मारकर पूरी संपत्ति अकेले ही लेना चाहते है अब दोनों पार्टी गुस्से में थी,संभु अपनी दीदी के घर गया और कहा की तुम्हे उस संपत्ति में से एक रुपया भी नहीं मिलेगा तो पारो के लड़के भीमा ने संभु का कोलर पकड़ लिया और संभु ने उसको जान से मारने की धमकी दी |

भीमा हिमेश के घर जा रहा था रास्ते में उसको मुरारी ने गोली मार दी क्योकि भीमा ने मुरारी की संपत्ति हड़प ली और उसके बीबी, बच्चो को मार दिया,पारो को इसका पता चला तो वो अपने गुंडे के साथ संभु के घर जाने लगी लेकिन उसके पहुंचने से पहले ही राहुल ने संभु के पेट में चाक़ू घुसा दिया और उसकी मौत हो गई. इसका फायदा उठाते हुए हिमेश ने पुलिस को फ़ोन करके बोल दिया की पारो अपने गुंडों को लेकर संभु को मारने जा रही है, पारो वहा पहुंची तो उसने संभु को मरा पाया फ़ौरन पुलिस भी पहुँच गई और संभु के खून के जुर्म में पारो को पकड़ कर ले गई | प्रिया को अपने चाचा और बुआ से छुटकारा मिल गया,अपनी संपत्ति में से कुछ को बेचकर उस दोनों ने एक "एन.जी.ओ." खोला और राहुल के लिए एक रेस्टॉरेंट खोला जिससे वो अपना जीवन यापन करने लगा और अपने पिता की सेवा भी. अब प्रिया की ज़िन्दगी में खुशियां लौट आई और उसने एक लड़की को जन्म दिया जिसका नाम उन्होंने मीनाक्षी रखा |

  सच्चा प्यार कभी भी किसी को
 रुलाता नहीं है

No comments:
Write Comments

Books

Powered by Blogger.