Love Shayari

Ads

Jan 12, 2019

Vishwas Shayari | विश्वास शायरी.......!

Vishwas Shayari me aapko kuch vishwas ke uper behatrin shayari di jaa rhi hai,kyoki vishwas zindagi ya relationship me agar na ho to vo jyada der tak chal nhi sakti hai,isliye dosto agar kishi ka vishwas jeeta hai to koshish karna ki kabhi tode na.Thnaks

Vishwas Shayari 

Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Jo ho nhi sakta kabhi
Uski aash kar liya karta hai
Kitna pagal hai ye dil
Kishi par bhi vishwas kar liya karte hai 
जो हो नहीं सकता कभी
उसकी आस कर लिया करता है
कितना पागल है ये दिल
किसी पर भी विश्वास कर
लिया करता है
                                                        
Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Bigad jaye halat 
Fir bhi tum aass mat chhaudna
Safalta jaroor milegi 
Bas vishwas mat chhaudna  
बिगड़ जाये हालत
फिर भी तुम
आस मत छोड़ना
सफलता जरूर मिलेगी
बस विश्वास मत छोड़ना 
                                                            
Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Vishwas agar sachcha ho
To chamatkar bhi ho jate hai
Sukhi huyi kaliyo se naye
Phool bhi nikal aate hai 
विश्वास अगर सच्चा हो
तो चमत्कार भी हो जाते है
सुखी हुयी कलियों से नए
फूल भी निकल आते है


                                                         
Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Dil ke kishi kone me usko
Maine sajakar rakha tha
Ek-na-ek din vo jaroor aayegi
Ye vishwas mujhe pakka tha 
दिल के किसी कोने में उसको
मैंने सजाकर रखा था
एक-न-एक दिन वो जरूर आएगी
ये विश्वास मुझे पक्का था
                                                            
Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Jish din hum pyar ki
Kadra karna sikh lenge
Uss din hume apne aap hi
Kishi se pyar ho jayega 
जिस दिन हम प्यार की
क़द्र करना सीख लेंगे
उस दिन हमें अपने आप ही
किसी से प्यार हो जायेगा
                                                          
Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Vishwas kiya tha tum par
Aur sarankhon par tumhe betaya tha
Jab ruthi thi auro se tum
To humne tumhe manaya tha 
विश्वास किया था तुम पर
और सराँखो पर तुम्हे बैठाया था
जब रूठी थी औरो से तुम
तो हमने तुम्हे मनाया था
                                                                    
Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Wada rha ye tumse
Vishwas nhi me todunga
Tukra bhi de duniya tumko
Par main kabhi mooh nhi modunga 
वादा रहा ये तुमसे
विश्वास नहि में तोडूँगा
ठुकरा भी दे दुनिया तुमको
पर मैं कभी मुँह नही मोडूँगा
                                                             
Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Jeeta hai kishi vishwas agar
To koshish karna marte dum tak tode na 
जीता है किसी विश्वास अगर
तो कोशिश करना मरते दम तक तोड़े ना
                                                         
Vishwas Shayari | विश्वास शायरी
Todte hai logo ko
Vishwas nhi todte
Sang de koi humara to
Uska sath nhi chhaudte
तोड़ते है लोगो को
विश्वास नहीं तोड़ते
संग दे कोई हमारा तो
उसका साथ नहीं छोड़ते

 Have A Nice Day........Vishwas Shayari 

No comments:
Write Comments

Books

Powered by Blogger.